Paro Lyrics (देख के आंख ना मारो चश्मे को उतारो) - Khesari Lal Yadav | Bhojpuri Lyrics

Mr Jaydeb

Song Credit
Title : Paro
Singer : Khesari Lal Yadav
Lyrics Labels : Adhilyrics ™

  • "Paro" Lyrics in Bhojpuri

देख के आंख ना मारो चश्मे को उतारो
पाकिट अपना झारो
क्योंकि नाच रही है पारो
देख के आंख ना मारो चश्मे को उतारो
पाकिट अपना झारो
क्योंकि नाच रही है पारो
ले बिना सूद के, नाच कुद कुद के
पुरा स्टेजवा टूट जाए दे
लुट जाये दे, धन लुट जाये दे
नमरी पs घघरी उठ जाए दे
लुट जाये दे, धन लुट जाये दे
नमरी पs घघरी उठ जाए देदे
सटा में काटा लेके आइल बड़ा
देखे खातीर चिज लरुआइल बड़ा ऐ..

अरे रात भर तोहके नचाईब गोरिया
एक कैइलेबा पागल तोहर ढोढिया
आज ते नियरा जुड़े दे जियरा
दूनो हेडलाइट बूत जाए दे

 

#buttons=(Ok, Go it!) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Ok, Go it!